हो रहे विरोध प्रदर्शन पर आरएसएस का आया बड़ा बयान, देश की राजनीति में मच सकता है हड़कंप

Political

नागरिकता कानून में संशोधनों के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन पर आरएसएस गहरी नजर रखे हुए है। संघ के वरिष्ठ नेताओं का मानना है कि इसका विरोध करने वालों को जनता स्वीकार नहीं करेगी और वे खुद ही अलग-थलग पड़ जाएंगे। एक वरिष्ठ अधिकारी ने पश्चिम बंगाल और केरल का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां की सरकार विरोध प्रदर्शन का आयोजन जरूर कर रही है, लेकिन जनता का साथ उन्हें नहीं मिल रहा है।

Third party image reference

संघ ने आधिकारिक रूप से नागरिकता कानून में संशोधनों का खुलकर समर्थन किया है, लेकिन वह इस पर हो रहे राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोपों के बीच फंसने से बच रहा है। मिली खबरों के अनुसार संघ के वरिष्ठ नेता ने कहा कि जो लोग इस नागरिकता कानून का विरोध कर रहें हैं दरअसल वो जेहादी मानसिकता के लोग हैं जबकि जनता यह भली भांति समझ रही है कि इस बिल से उनके नागरिकता पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है।

उन्होंने केरल और पश्चिम बंगाल में हो रहे विरोध प्रदर्शन का उदाहरण देते हुए कहा कि सोमवार को बंगाल में वहां की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक विरोध रैली बुलाया था लेकिन इस रैली में पांच हजार से भी ज्यादा लोग मौजूद नहीं थे और उनमें भी ज्यादातर लोग मुस्लिम समुदाय के थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *